नागपंचमी का आध्यात्मिक महत्व

नागपंचमी का पर्व आया है,
सावन शुक्ल पक्ष आया है।

हम नागदेव की पूजा तो करते है,
पर पूजा का महत्व ओर बढ़ा सकते है,
जब हम आध्यात्मिक महत्व जान लेते है।

सभी जीवों का महत्व है ब्रह्मांड में,
यही बताया गया है सनातन धर्म में।

नाग को देव माना गया है
क्योंकि हम देखे इस जीव को मान-सम्मान से,
ना की नफ़रत व घृणा से।

लोकाः समस्ताः सुखिनो भवन्तु,
(अर्थातः दुनिया में सभी सब प्रकार से खुश रहें)
इस विचारधारा को अपनाना है।

नफ़रत की भावना किसी के प्रति नहीं रखनी है,
बदले की भावना किसी के प्रति नहीं रखनी है,
प्रेम की भावना सब के प्रति रखनी है।

नागपंचमी का पर्व इसलिए मनाया जाता है,
क्योंकि हमे इस संदेश का अनुसरण करना है।

5 thoughts on “नागपंचमी का आध्यात्मिक महत्व

Add yours

  1. बहुत बढ़िया लिखा है आप ने | आप के विचार अति सुंदर है. Wonderful, Harina. This is not only informative but also inspiring. Very proud of you dear friend. Always keep posting positive thoughts like this. ♥️♥️♥️♥️♥️🌹🌹🌹🌹🌹

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

Website Powered by WordPress.com.

Up ↑

%d bloggers like this: