सेवाभावी कार्य

जैसे फूलों की महकमन को प्रसन्न करती है,वैसे अपने सेवाभावी कार्यो की महक सेदूसरों के मन को प्रसन्नता दे।

हाइकु काव्य रचना (9)

मनमौजी हूंखुद में मगन हूं,एसी ही हूं मैं। ज़िंदादिल हूंखुद के अंदाज़ सेचलती हूं मैं। अन्य हाइकु काव्य रचनाएं हाइकु काव्य रचना (1) हाइकु काव्य रचना (2) हाइकु काव्य रचना (3) हाइकु काव्य रचना(4) हाइकु काव्य रचना (5) हाइकु काव्य रचना (6) हाइकु काव्य रचना (7) हाइकु काव्य रचना (8)

મજાક (मज़ाक)

हिंदी में अनुवाद: मज़ाक के बहाने दूसरों की कमी निकालना, दूसरों के जज़्बात को ठेस पहुंचाना, नकारात्म्क शब्दों का प्रयोग करना, अपने मन की कुंठा प्रदर्शित करना ये उचित नहीं है। एसे वर्तन को मानसिक अस्थिरता कहते है। मज़ाक का उद्देश्य आनंद फैलाना है, निराशा फैलाना नहीं है।

मनपसंद कार्य

जब कोई कार्य हमारा मनपसंद होता है तब हम वह कार्य करने में खो जाते है, हमें दिल से आनंद मिलता है। उस कार्य को करने में चाहे कितनी भी बाधा आए, हम निराश नहीं होते, हर अवरोध का सामना करते है। जीवन में कुछ परेशानी हो तो भी उस वक्त वह याद नहीं आती।... Continue Reading →

Life fades

When life fades,Our hope fades;It's the moment,Time to fill a colour,To fill colour of faith;To fill colour of patience;Time to find our true spirit,Find our consciousness,Find our spirit of optimism.

Prayer

Prayer is not only a medium of demands and fulfilment of wishes. Prayer is a medium of expressing gratitude,Have gratitude for things you have. Be thankful for that. Prayer is a medium of developing intuition power,Try to read your heart voice. Develop integrity between your mind and heart voice. Prayer is a medium of self-development,Enhance... Continue Reading →

Website Powered by WordPress.com.

Up ↑