सीखते रहिए

सीखते रहिए,हर दम जीवन में,सीखते रहिए। कुछ खोकर सीख लीजिए,कुछ पाकर सीख लीजिए। कुछ हंसकर सीख लीजिए,कुछ रोकर सीख लीजिए। कुछ ठोकर खाकर सीख लीजिए,कुछ

इश्क की हवा

किसी का साथ, दिल बस चाहने लगे,किसी का नाम, सांसें बस लेने लगें,तो समझ लो,इश्क की हवा चली। कुछ बताना है, पर बता न पाए,कुछ

કવિતા નું સૌંદર્ય/ कविता का सौंदर्य/ Beauty of the Poem

Hindi Translation: कविता का सौंदर्य नये नये शब्द,जैसे श्रृंगार कर रहे हैं,हमारे मन में। नये नये जज़्बात,जैसे श्रृंगार कर रहे हैं,हमारे दिल में। और काग़ज़

डर को हरा दे

तुने राह चुन ही ली है,तो राह पर चलने में,संदेह क्यों करता है? मन में विश्वास जगा दे,मन से डगमगाना क्यों? राह ढूंढने में मेहनत

1 2 3 15