Source quotes

धनतेरस पर कुछ पंक्तियां

आज का दिन देवी लक्ष्मी से जुड़ा हुआ है और आरोग्य के देवता धन्वंतरि से भी जुड़ा हुआ है। आज ही के दिन देवता धन्वंतरि प्रकट हुए थे, जो आयुर्वेद के देव है, इसे राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस भी कहा जाता है। इसीसे प्रेरणा लेकर मैंने स्वास्थ्य, धन, सुख, समृद्धि और इन सब के आध्यात्मिक दृष्टिकोण... Continue Reading →

It is all about experience

Harina's Blog

Some experience breaks you down,
while some experience moulds you.

Some experience gives you the freedom to fly in the sky,
While some experience cut your wings.

Some experience gives you sweet memories,
While some experience gives you bitter memories.

We have a collection of experiences,
Life goes on with these experiences.

Utilise all experiences for a noble purpose,
Lead your life with a vision.

Nothing can stop us to lead the life,
With our dreams and aspirations.

View original post

जश्न का गीत

#ग़ज़ल ज़िंदगी में जश्न का गीत गुनगुनाना है,ग़मों की दास्तान सुनाना मन को भाता नहीं है। जब खुद के ही सुर पा ले यह मन,तब दूसरों से मिले ग़म की परवाह नहीं रहती है। जब खुद की ही लय में झूम उठे यह दिल,तब किसी से कोई फ़रियाद नहीं रहती है। जब खुद की ताल... Continue Reading →

दुर्गा माता के नव स्वरूप (आठवां स्वरूप)

Harina's Blog

  • दुर्गा माता का यह स्वरूप अंत्यंत गौर है, इतने गौर जैसे की शंख या चंद्र, इसलिए इस स्वरूप को महागौरी कहा गया है।
  • दुर्गा माता का यह रूप, हमें अपने जीवन में आगे बढ़ने के लिए ज्ञान प्रदान करता है, एसी परिस्थितियां आती है, जब हमें पूरा बदलाव लाना पड़ता है, सोच को बदलने की जरूरत होती है, तब माता हमे ज्ञान देते है कि कैसे परिस्थिति से तालमेल लाकर जीना है।
  • महागौरी स्वरूप, हमें संकिर्ण दृष्टिकोण (Narrow perspective) से मुक्ति देता है और व्यापक दृष्टिकोण(broader perspective) का द्वार खोलता है।
  • अगर आप किसी भी मामले में या किसी भी प्रकार से भ्रमित (Confuse) है, तो महागौरी स्वरूप आप को स्पष्टता देगा।

View original post

त्रिदेवी की आराधना का पर्व

Harina's Blog

नवरात्री कीहार्दिक शुभकामनाएं।

नवरात्री का पर्व आया है,
नवदुर्गा शक्ति का पर्व आया है।

भक्ति के रंग में डुबना है,
आध्यात्मिक विकास करना है।

त्रिदेवी की आराधना में खुद को खो देना है,
त्रिदेवी की आराधना से खुद को संवारना है।

खुद के दु:खों से उपर उठना है,
खुद में प्रसन्नता को ढूंढना है।

काली स्वरूप तमस का प्रतीक है,
यह स्वरूप से प्रेरणा लेनी है;

मन से जड़ता दूर करनी है,
मन की कमज़ोरी दूर करनी है,
सकारात्मकता की रौशनी फैलानी है।

लक्ष्मी स्वरूप रजस का प्रतीक है,
यह स्वरूप से सिखना है;

धन को मेहनत से पाना है,
कर्म में सक्रियता व सच्चाई को लाना है,
विचारों में रचनात्मकता को लाना है।

सरस्वती स्वरूप सत्व का प्रतीक है,
यह स्वरूप से सिखना है;

खुद के अज्ञान को दूर करना है,
खुद में निर्मलता व सौम्यता को लाना है,
कला से जीवन को सजाना है।

View original post

गणेश उत्सव

Harina's Blog

गणेश चतुर्थी की हार्दिक शुभकामनाएं

गणेश उत्सव यानी
भक्ति का उत्सव,
गणेश जी के अनोखे स्वरुप का उत्सव;
गणेश जी के प्रतीक से प्रेरणा लेने का उत्सव,
प्रेरणा लेकर वैसे ही गुणों को विकसित करने का उत्सव;
गणेश जी की भक्ति से मन की मलिनता मिटाने का उत्सव;
गणेश जी की भक्ति से मन को निर्मल बनाने का उत्सव।

गणेश जी के अन्य ब्लॉगः

गणपति भगवान के १२ नाम और अर्थ (ગણપતિ ભગવાનના ૧૨ નામ અને અર્થ)

गणपति भगवान के प्रतीक और अर्थ (ગણપતિ ભગવાનના પ્રતીક અને અર્થ)

गणेश स्त्रोतम्

गणेश विसर्जन मंत्र और संदेश

View original post

Website Powered by WordPress.com.

Up ↑