दीपावली की शुभकामनाएं #संस्कृत प्रार्थना

प्रार्थना:-
असतो मा सदगमय।
तमसो मा ज्योतिर्गमय।
मृत्योमामृतम् गमय।
ॐ शांति शांति शांति।।
अर्थात्
हमको असत्य से सत्य की और ले चलों।
अंधकार से प्रकाश की और ले चलों।
मृत्यु से अमरता की और ले चलों।
ॐ शांति शांति शांति।।

दीपावली मतलब प्रकाश का पर्व, हम यह प्रार्थना करके अपने अंदर ज्योति प्रगटाए और सिर्फ बहार ही प्रकाश का अनुभव न करकर, अपने भीतर भी प्रकाश महसूस करें।

जैसे ज्योत से ज्योत जलाते हैं,
वैसे ही हम, दूसरो की खुशी का कारण बनें,
हम दूसरो की परेशानी का कारण न बनें,
हम खुश रहे और दूसरो को भी खुश रखें,
हम शांति से रहें और दूसरों को भी शांति से रहने दे

दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं।

11 thoughts on “दीपावली की शुभकामनाएं #संस्कृत प्रार्थना

Add yours

  1. दीपज्योतिः परंब्रह्म दीपज्योतिर्जनार्दनः।
    दीपो हरतु मे पापं दीपज्योतिर्नमोऽस्तु ते॥
    सिद्धिबुद्धिप्रदे देवि भुक्तिमुक्तिप्रदायिनि।
    मन्त्रपूते सदा देवि महालक्ष्मि नमोस्तु ते ॥
    शुभम करोति कल्याणम,
    अरोग्यम धन संपदा ।
    शत्रु-बुद्धि विनाशायः,
    दीपःज्योति नमोस्तुते ।।

    आपको सपरिवार दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं..एवं दीपोत्सव आपके जीवन को सुख, समृद्धि, सुख-शांति, सौहार्द एवं अपार खुशियों की रोशनी से जग-मग करे…I

    Liked by 4 people

    1. वाह! आपकी पंक्तिया, मन को भा गई 🙏🙏 आपके लिए भी आनेवाला वर्ष सुख-समृद्धि लेकर आए, यही शुभकामना है मेरी।

      Liked by 2 people

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

Powered by WordPress.com.

Up ↑

%d bloggers like this: