दो चेहरे

चेहरे के पीछे चेहरा,एक ही व्यक्ति के दो चेहरे। जो उसकी तारीफें करता फिरे,उसके साथ अच्छा वाला चेहरा। वाहवाही लुटने का मज़ा,जो आता है उसे।

विचारों की माला- (हास्य रस) (शरारत भरे अंदाज़) खतरों के खिलाड़ी

हम खतरों के खिलाड़ी नहीं है,हम तो खुद एक खतरा है।जो हम से खेलता है,जो हमको निभा पाता है,वो खुद एक खिलाड़ी बन जाता है।

1 2 3 4 5 18