Quote for Makar Sankranti

पतंग की तरह
मन से हल्के फुल्के रहें,
तभी तो ज़िंदगी
खुलकर जी पाएंगे।

One comment

Leave a Reply