Book Review – Kaun he Ram!

मैं इस पोस्ट में “कौन हैं राम” किताब के बारे में साझा करना चाहुंगी। यह किताब के लेखक आशीष कुमार (ShankySalty) है।https://ashish05shanky.wordpress.com/

इस किताब में राम जी के बारे में सुंदर वर्णन है, जो काव्यात्मक ढंग से वार्तालाप जैसा है, जो इस किताब की सुंदरता को बढ़ा देता है।

यह पुस्तक की विशेषताए साझा करना चाहुंगी।

राम को सिर्फ धर्म की सीमा में न बांधकर एक उर्जा, एक आनंद की तरह महसूस करे, इस पुस्तक का यही उदेश्य है।

आध्यात्मिक उर्जा का अनुभव कराती पुस्तक है। जात, मज़हब, रंग जैसे भेद से भरी सोच को बदलकर अपने भीतर छिपी आत्मचेतना को जगाने पर ध्यान खिंचती पुस्तक है।

यह पुस्तक पढ़कर आप अपने जीवन को एक नयी दिशा दे सकते है। आध्यात्मिक दिव्यता का अनुभव करकर जीवन को सार्थक करने की प्रेरणा मिलेगी।

कुछ पंक्तियां मेरी बहोत ही प्रिय है, उसमें से कुछ पंक्तियां साझा करना चाहुंगी,

जिसे मन और इंद्रियां जान न सके राम,
वो ही है राम,
एक उर्जा है राम,
एक आनंद है राम,
एक भक्ति है राम,
जहां काम है राम,
वहां नहीं है मेरे राम,
जन्म और मृत्यु से परे हैं मेरे राम।

Book link:
https://play.google.com/store/books/details/Ashish_Kumar_Kaun_Hai_Ram?id=EwgqEAAAQBAJ

10 comments

  1. निशब्द हूँ दीदी 🥺
    आध्यात्मिक और आंतरिक अनुभूति के लिए यह किताब लिखी थी। और यह आप तक पहुँच गई🙏
    बस ह्रदय से आभार दीदी 🙏😇
    जय श्री राम 🤗

  2. बहुत उम्दा रिव्यू हरिना। किताब के लिए शैंकी और ख़ूबसूरत रिव्यू के लिए तुम्हें बधाई ।

Leave a Reply