अश्क

आंखों के अश्क,
कीमती होते हैं।
तुम्हारी कद्र न करने वालों पर,
इन्हें ज़ाया मत करो।

5 comments

  1. बहुत खूब।
    मगर
    ताज्जुब है जो प्रेम का कद्र नही करते हैं,
    ये अश्क भी अक्सर उनके लिए ही छलकते हैं,

    Liked by 2 people

  2. बहुत खूब।
    मगर
    ताज्जुब है जो प्रेम का कद्र नही करते हैं,
    ये अश्क भी अक्सर उनके लिए ही छलकते हैं।

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s