प्रेम (Reblog)

प्रेम अगर दवा है तो मर्ज भी है। प्रेम अगर सुकून है तो बैचेनी भी है। प्रेम अगर खुशी है तो दर्द भी है। प्रेम

કવિતા નું સૌંદર્ય/ कविता का सौंदर्य/ Beauty of the Poem (#લઘુકાવ્ય #लघुकाव्य #shortpoem – 1)

Hindi Translation: कविता का सौंदर्य नये नये शब्द,जैसे श्रृंगार कर रहे हैं,हमारे मन में। नये नये जज़्बात,जैसे श्रृंगार कर रहे हैं,हमारे दिल में। और काग़ज़

डर को हरा दे

तुने राह चुन ही ली है,तो राह पर चलने में,संदेह क्यों करता है? मन में विश्वास जगा दे,मन से डगमगाना क्यों? राह ढूंढने में मेहनत

शरारत का रंग

मेरी अनगिनत शरारतें,तेरे लिए ही हैं। मेरी हर नटखट अदाएं,तेरे लिए ही हैं। प्यार का एक रंग भी,शरारत का रंग है। चलो, इस रंग में

1 25 26 27 28 29 53