मेरे विचारों की माला

#आशीर्वाद

विचारों की माला के अन्य पोस्ट:

स्वयं अपना नेतृत्व करें (BE YOUR OWN LEADER )

अश्क

विरोधाभासी व्यवहार पर कुछ पंक्तियां

रिश्तों को गहरा बनाने का तरीका / RELATIONSHIP MANTRA

दिल में आग (SET YOUR SOUL WITH FIRE)

6 comments

  1. कहते उसको धरा दुआ
    कहते कई आशीष यहा
    धन दौलत जहाँ काम नही
    काम वही आती यहा।।

    मिलती सेवा से कहते हैं
    जहाँ कोई ना हो स्वार्थ वहा
    आंखे दिखला देती जग में
    बटता है जब आशीष यहा।।

Leave a Reply