संस्कृत सुभाषित अर्थ सहित (3) #मूर्खो के पांच लक्षण #five signs of fools

मूर्खस्य पञ्चचिह्नानि गर्वो दुर्वचनं तथा।
क्रोधस्य दृढ़वादश्च परवाक्येष्वनादर।।

Translation in English:

Murkhsya panchchinhani garvo durvachan tatha
Krodhsya dradhvadashcha parvakyesnadar.

There are five signs of fools – Pride, abusive language, anger, stubborn arguments and disrespect for other people’s opinion.

Fools used to live in arrogance, they get angry very easily and lose their temper, stupid people use abusive language, present illogical arguments all the time because they are stubborn, they disrespect other people’s view.

हिंदी में अर्थ:

मूर्खो के पांच लक्षण है।
अहंकार (गर्व), अपशब्द का प्रयोग, क्रोध, हठ से भरी बातें करना और दूसरों की बात का अनादर करना।

मूर्ख लोग अहंकार में ही जीते हैं, हर वक्त लोगों को अपशब्द ही बोलते हैं, उनकी वाणी अप्रिय होती है, दूसरों को नीचा दिखाने में ही उनको रस होता हैं, बिना मतलब का क्रोध करते हैं, दूसरों की बात का अनादर करके उनके साथ बुरा व्यवहार करते हैं।

अन्य संस्कृत रचनाएँ:

संस्कृत सुभाषित अर्थ सहित (1)

संस्कृत सुभाषित अर्थ सहित (2)

संस्कृत श्लोक अर्थ सहित- (1) / Sanskrit quotes with meaning

संस्कृत श्लोक अर्थ सहित- (2) / SANSKRIT QUOTES WITH MEANING

#संस्कृत #योग / SANSKRIT QUOTES WITH MEANING (3)

चिंता का पहाड

This image has an empty alt attribute; its file name is harina-book-cover.png
Buy Now: Jivan Ke Shabd
Amazon Link: Jivan Ke Shabd

11 comments

  1. 100% correct. There is one more. A fool never knows or accepts that he is a fool. This happens with us also many times and when the anger, ahankar goes away do we realise that we were acting like a fool.

  2. सत्य धरा पर लिखा आपने
    कितने मूर्ख हैं यहां
    अहंकार, मद्द में डूबा
    आज इंसान है यहां।।

    मदहोशी में डूबी जिंदगी
    आज दिखती हैं यहां
    मोक्ष तो लोग भूल गए
    मानव भगवान हैं बना।।

    चाँद पहुचे,नज़रे मंगल
    देखे ब्रह्मांड में यहां
    जिज्ञासु प्रवर्ति में डूबी इंसानियत
    आज धरती पर इंसान हैं कहा।।
    💐💐

Leave a Reply