दृढ़ मनोबल

अगर…
विश्वास की शम्मा जलाकर चलते हो,
तो संशय से बुझने मत देना।

अगर…
रौशनी की उम्मीदें लेकर चलते हो,
तो अंधेरे से डर मत जाना।

अगर…
कुछ कर गुज़रने की आग लेकर चलते हो,
तो अवरोधों से डर मत जाना।

अगर…
जो चाहते हो, वो पाना चाहते हो,
तो पीछे मत हट जाना।

दृढ़ मनोबल से ही
जीया जाता है जीवन।

बुज़दिल होकर जीना भी
क्या जीना होता है?

दृढ़ मनोबल से ही
सफल होता है जीवन।

14 comments

  1. बहुत सुंदर, बस द्रढ़ को दृढ़ कर दीजिए, comment approve मत करना बस सुधार दीजिएगा.. मंशा मेरी गलती निकालना है ऐसा मत समझिएगा आप, बहुत खूबसूरत लिखा है आपने ❤🙏

    • यह बताने के लिए धन्यवाद 😊

      कोई बात नहीं, आप मुझे बताना, अगर कुछ शब्द गलत हो जाए, मुझे तो अच्छा ही लगेगा, मुझे सीखना ही है सब! भाषा का एसा ही है कि सीखते रहो, सीखते रहो। मुझे कोई भी आपत्ति नहीं है।😊🙏

Leave a Reply