Spiritual Eye

This short poem throws light on the journey of the inner self. When we think spiritually, we upgrade our thought process, feel contentment and become fearless. We become joyful and radiate joy with whoever we meet. I want to gain a spiritual eyeEyes that look for new insight,Mind that receives a new light. I want... Continue Reading →

Prayer

Prayer is not only a medium of demands and fulfilment of wishes. Prayer is a medium of expressing gratitude,Have gratitude for things you have. Be thankful for that. Prayer is a medium of developing intuition power,Try to read your heart voice. Develop integrity between your mind and heart voice. Prayer is a medium of self-development,Enhance... Continue Reading →

हमारी शक्ति का स्रोत [संस्कृत श्लोक- (5)]

जब हम दुनियादारी की स्वार्थ वृति से टूट जाए, तब हमें यह श्लोक निस्वार्थ वृति को फैलाने की शक्ति देता है। हमें कभी अकेला महसूस नहीं होने देगा, गर विश्वास है तो ईश्वर हमारे साथ ही है क्योंकि वह हमारे भीतर ही है, हमें ही भीतर देखना है। यह श्लोक का अर्थ हम सभी को... Continue Reading →

#quotes #भक्ति #भक्ति का उद्देश्य

भक्ति का उद्देश्य कामना पूर्ति नहीं है पर कामनाओं का नाश है। कामना पूरी हो तो हम यह करेंगे यह तो व्यापार हो गया, जैसे कि कोई service का charge दे रहे है। भक्ति का मूल उद्देश्य जीवन में शिवत्व की प्राप्ति है, जीव का शिव से मिलन है, आध्यात्मिक प्रगति तभी होती है, जब... Continue Reading →

Website Powered by WordPress.com.

Up ↑