कर्म (કર્મ)

कर्म कहता है….भाग्य के भरोसे बैठे मत रहो,वर्तमान में जीते हुए कर्म करो। कर्म कहता है….ग्रहो की स्थिति के भरोसे बैठे मत रहो,वर्तमान में जीते हुए मेहनत करो । ગુજરાતીમાં અનુવાદ: કર્મ કહે છે…ભાગ્યના ભરોસે બેસી ન રહીશ,વર્તમાનમાં જીવીને કર્મ કર. કર્મ કહે છે…ગ્રહોની સ્થિતિના જ ભરોસે બેસી ન રહીશ,વર્તમાનમાં જીવીને મહેનત કર.

🔸️🔹️होली🔸️🔹️

अलग-अलग रंग सुंदरता को दर्शाते है,चलिए! इस होली में रंगों से जीवन को सुंदर बनाए। मन से मानसिक दुर्बलता दूर करे,कपट, घृणा व शत्रुता दूर करे;मन को सबल बनाए। अपनो से हुए गिले-शिकवे से उपर उठकर,मन को सुंदर रंगों से सजाएं;निस्वार्थ और निष्कपट के रंग से सजाएं। आप सब को होली की ढेर सारी शुभकामनाएं।

Website Powered by WordPress.com.

Up ↑