प्रेम के छह लक्षण (Six signs of love)

ददाति प्रतिगृह्णाति गुह्यमाख्याति पृच्छति।भुङ्क्ते भोजयते चैव षड्विधं प्रीतिलक्षणम्।। अर्थात्: देना, लेना, एक-दूसरे के रहस्य बताना, रहस्य के बारे में कुछ भी पूछना, खाना और खिलाना

1 2 3 57